विभाग ने ली खंडहर भवन की सुध

पीलीबंगा. प्रेमपुरा के क्षतिग्रस्त राजकीय आयुर्वेदिक औषधालय की आयुर्वेद चिकित्सा विभाग के उपजिला आयुर्वेद अधिकारी मोहनबिहारी मुद्गल ने सुध ली।बुधवार को सहायक लेखाधिकारी रामसिंह, कनिष्ठ सहायक पवन पारीक व आयुर्वेद चिकित्सक विनोद चतुर्वेदी निरीक्षण में मुद्गल के साथ थे।
उपजिला आयुर्वेद अधिकारी मोहनबिहारी मुद्गल ने बताया कि ग्रामीणों की जर्जर औषधालय भवन व संबंधित कम्पाउडर के नियमित उपस्थित नहीं होने की लगातार शिकायतें मिल रही थी। इस पर उन्होंने अपनी टीम के साथ खंडहर भवन का अवलोकन किया तथा सरपंच सरोज मेघवाल व ग्रामीणों की मौजूदगी में जर्जर भवन का ताला खोला। टीम ने भवन के एक कक्ष में रखी औषधियों व दस्तावेजों का पंचनामा तैयार किया। मुदगल ने ग्रामीणों से जब तक नया भवन तैयार नहीं हो, तब तक कम्पाउडर के लिए गांव में अलग से कक्ष देने की बात कही। इस पर ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत की सहमति से पंचायत भवन में एक कक्ष उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया। मुद्गल ने बताया कि कम्पाउडर के नियमित उपस्थित नहीं होने की शिकायत को लेकर अन्य किसी कम्पाउडर को नियुक्त कर दिया जाएगा ताकि ग्रामीण रोगियों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। उन्होंने बताया कि नए भवन का बजट संभवतः शीघ्र पारित होने की संभावना है। ऐसे में एक-डेढ़ माह में औषधालय के नए भवन का निर्माण शुरू करवा दिया जाएगा।
Post a Comment

Popular posts from this blog

हनुमानगढ़ जिले का स्थापना दिवस आज

पारिवारिक न्यायालय के अनूठे फैसले- परिवार टूटने के बजाय हो रहे एक

‘नाटकों का सामाजिक जीवन में महत्व’ विषय पर परिचर्चा