युवक के विरुद्ध पशु क्रूरता के तहत दर्ज केस का विरोध, दलित शोषण मुक्ति मोर्चा ने थाने का किया घेराव, समझाइश पर माने

कालीबंगा ग्राम पंचायत के चक 3 पीबीएन में आवारा पशुओं से खेत में खड़ी फसल की रखवाली कर रहे दलित युवक के विरुद्ध पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करने के विरोध में शनिवार को दलित शोषण मुक्ति मंच द्वारा पीलीबंगा पुलिस थाने का घेराव कर प्रदर्शन किया गया। सीओ रावतसर जयसिंह दहिया को पुलिस अधीक्षक के नाम का एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में मंच द्वारा गोवंश रक्षा के नाम पर कुछ लोगों पर सांप्रदायिक तनाव फैलाने व गुंडागर्दी का आरोप लगाते हुए बीते बुधवार की रात्रि को कालीबंगा ग्राम पंचायत के चक ३ पीबीएन में एक दलित युवक नेतराम के साथ मारपीट करने के फरार आरोपी दौलतराम की शीघ्र गिरफ्तारी करने, क्षेत्र में आवारा पशुओं की समस्या का शीघ्र समाधान करवाने व किसानों को जानो माल की सुरक्षा मुहैया करवाने की मांग की गई। सीओ ने प्रदर्शनकारियों को मामले की निष्पक्ष जांच कर वास्तविक आरोपियों को शीघ्र पकडऩे का भरोसा दिलाया। जिस पर उग्र प्रदर्शनकारी शांत हुए। प्रदर्शनकारियों ने आगामी सात दिवस में नेतराम के साथ गोवंश रक्षा के नाम पर मारपीट करने की घटना के फरार आरोपी को गिरफ्तार नहीं करने पर आंदोलन को उग्र करने की चेतावनी दी। प्रदर्शन में दलित शोषण मुक्ति मंच के जिलाध्यक्ष मनीराम मेघवाल, पूर्व उपप्रधान कमला मेघवाल, शेर सिंह, शकूर खान, गगनदीप मान आदि मौजूद थे। तहसीलदार सत्यनारायण सुथार, डीवाईएसपी जय सिंह दहिया, थाना प्रभारी विष्णु खत्री व द्वितीय थाना प्रभारी बनवारीलाल सहित भारी संख्या में पुलिस जाब्ता मौजूद रहा। पुलिस ने थाने के आगे बेरिकेटस् लगाकर प्रदर्शनकारियों को थाने के बाहर ही रोक दिया।

Comments

Popular posts from this blog

हनुमानगढ़ जिले का स्थापना दिवस आज

पारिवारिक न्यायालय के अनूठे फैसले- परिवार टूटने के बजाय हो रहे एक

पीलीबंगा विधानसभा के 9 प्रतियाशीयों के चुनाव परिणाम