हनुमानगढ़ को फिरोजपुर के लिए नई ट्रेन सांसद निहालचंद 29 को दिखाएंगे हरी झंडी

हनुमानगढ़| हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर क्षेत्र के नागरिकों को तीन नई रेलगाड़ियों की सुविधा मिलेगी। रेलवे बोर्ड ने गाड़ी संख्या 16311/16312 बीकानेर-कोचिवल्ली साप्ताहिक ट्रेन व गाड़ी संख्या 17624/17623 बीकानेर- नांदेड़ को श्रीगंगानगर तक विस्तारित करने के आदेश जारी कर दिए हैं। यह ट्रेन वही है जो बीकानेर तक पहले आती रही है। वहीं पंजाब के फिरोजपुर से रवाना होकर जलालाबाद, गुरु हरसहाय, लाधूका, फाजिल्का, अबोहर होते हुए श्रीगंगानगर आने वाली गाड़ी संख्या 14601/14602 को हनुमानगढ़ तक विस्तारित करने के आदेश जारी किए हैं। इससे हनुमानगढ़ व सादुलशहर क्षेत्र के लोगों को पंजाब के उक्त नगरों के लिये यह दैनिक रेल मिल जाएगी। सांसद निहालचंद संभवतः आगामी रविवार को इस ट्रेन को हनुमानगढ़ रेलवे स्टेशन से झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। बीकानेर से प्रत्येक मंगलवार को रवाना होने वाली बीकानेर-कोचिवल्ली के श्रीगंगानगर तक विस्तारित होने से जनता को जोधपुर, आबू रोड़, पालनपुर , मेहसाणा, अहमदाबाद, बड़ोदरा, सूरत के लिये एक और रेल सेवा मिलेगी। वहीं, किसान एक्सप्रेस को भी वाया संगरिया, हनुमानगढ़ तक विस्तारित किया जा सकता है 

फिरोजपुर ट्रेन भी अब हनुमानगढ़ तक जाएगी, ये रहेगा रूट 1.बीकानेर-कोच्चिवली (16311 / 16312) साप्ताहिक ट्रेन फायदा...यह ट्रेन बीकानेर से रवाना होकर मारवाड़, गुजरात व महाराष्ट्र के रास्ते केरला पहुंचती है। फायदा ये होगा कि श्रीगंगानगर सूरतगढ़, बीकानेर, जोधपुर, माउंटआबू, अहमदाबाद, सूरत, महाराष्ट्र, उडुपी, कुन्नूर व केरला के लिए सीधी ट्रेन मिलेगी। गंतव्य तक पहुंचने में यह ट्रेन करीब 60 घंटे लेगी। 
2. बीकानेर- नांदेड़ (17624/ 17623) साप्ताहिक ट्रेन यह ट्रेन पहले यह बीकानेर से नांदेड़ के बीच ही चलती रही है। अब श्रीगंगानगर तक चलेगी। इसका फायदा ये होगा कि श्रीगंगानगर को वाया बीकानेर नांदेड़ के लिए एक और ट्रेन मिल जाएगी। इसका रूट बीकानेर, जोधपुर, माउंटआबू, अहमदाबाद, जलगांव महाराष्ट्र होते हुए नांदेड़ साहिब रहेगा। इस ट्रेन का पूरा रूट करीब 40 घंटे में पूरा होगा। 
3. फिरोजपुर-श्रीगंगानगर (14601/14602) प्रतिदिन फायदा...यह ट्रेन पंजाब के फिरोजपुर से श्रीगंगानगर तक आती रही है। अब आगे हनुमानगढ़ तक आया-जाया करेगी। यह ट्रेन अब फिरोजपुर से चलकर जलालाबाद, गुरुहरसहाय, लादुका, फाजिल्का, अबोहर होते हुए श्रीगंगानगर के रास्ते हनुमानगढ़ तक चलेगी। फायदा ये होगा कि श्रीगंगानगर को सादुलशहर व हनुमानगढ़ के लिए एक और ट्रेन मिल जाएगी।
Post a Comment

Popular posts from this blog

हनुमानगढ़ जिले का स्थापना दिवस आज

पारिवारिक न्यायालय के अनूठे फैसले- परिवार टूटने के बजाय हो रहे एक

‘नाटकों का सामाजिक जीवन में महत्व’ विषय पर परिचर्चा