चातुर्मास हेतु मंगल प्रवेश किया


पीलीबंगा | शांतिदूत आचार्य श्री महाश्रमण जी की आज्ञानुवर्ती सुशिष्या साध्वी श्री गुप्तिप्रभाजी ने अपनी सहवर्तनी साध्वियों कुसुमलताजी जी, मौलिकयशाजी एवं भावितयशाजीजी के साथ स्थानीय जैन भवन में शनिवार को चातुर्मास हेतु मंगल प्रवेश किया |जैन समाज में अत्यंत उल्लास का वातावरण बना | साध्वीवृंद के सानिध्य में सम्पूर्ण जैन समाज ने स्वागत का कार्यक्रम रखा |
तेरापंथ सभा, तेरापंथ महिला मंडल, तेरापंथ युवक परिषद के सदस्यों द्वारा आचार्य श्री महाश्रमणजी के जयघोष व मंगल गीतों के संगान के साथ जुलुस के रूप में साध्वीवृंद का स्वागत किया गया |
साध्वीश्री गुप्तिप्रभाजी जी ने परिषद को संबोधित करते हुए कहा कि तेरापंथ धर्मसंघ एक प्राणवान धर्मसंघ है |  एक गुरु की आज्ञा,अनुशासन और मर्यादा के द्वारा इस संघ की दुनिया में अलग ही पहचान है | आज हम  आचार्य श्री महाश्रमण जी निर्देशानुसार सानंद पीलीबंगा आ गए हैं | संत आते है तो अपने साथ बहार लाते है , संत का प्रताप सूर्य तुल्य होता है |सूर्य किसी को जगाता नहीं है पर वह आता है तो सब जाग जाते है | आज एक दृष्टि से हमारी बहिर्यात्रा सम्पन्न हुई और अंतर्यात्रा का विशेष प्रारम्भ होगा | अंतर्यात्रा सच्चा सुख का द्वार होता है और वही साधक जीवन का सच्चा श्रृगार होता है | चातुर्मास काल आध्यात्मिक संपदा बटोरने का अनमोल अवसर है | चातुर्मासकाल में ज्ञान, दर्शन, चरित्र और तप की गंगा बहाते हुए नियमित रूप से प्रवचन सुनने का लाभ प्राप्त कर हम अपनी आत्मा के ओर निकट पहुंचने का प्रयास कर सकते हैं |
साध्वीश्री कुसुमलताजी ने संघ संघपति के गुणगान करते हुए चातुर्मासिक प्रवास के सफल,सफलतम होने की मंगल कामना की | साध्वीश्री मौलिकयशाजी एवं साध्वी भावितयशाजी ने सुमुधुर गीतिका द्वारा सबमें जोश एवं जागृति का संचार करने हेतु प्रयत्न किया | कार्यक्रम की शुरुआत मंगलाचरण द्वारा श्रीमती विनोददेवी छाजेड ने किया | स्वागत एवं अभिनंदन करते हुए जैन सभा अध्यक्ष मूलचंदजी बांठीया, अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल की कार्यकारिणी सदस्य श्रीमती पुष्पा नाहटा तेरापंथ महिला मंडल अध्यक्षा श्रीमती विनोद देवी बांठीया,  प्रेक्षावाहिनी संवाहक ओमप्रकाश जैन, चातुर्मास सुखद एवं जन जन के लिए कल्याणकारी होने की मंगलकामना की एवं तेरापंथ महिला मंडल सदस्यों श्रीमती विनोद छाजेड व सायर जैन ने गीतिका के द्वारा साध्वीश्री का स्वागत एवं अभिनंदन किया | तेरापंथ अध्यक्ष श्री प्रदीप बोथरा ने सभी आए हुए आगुन्तको का आभार व्यक्त किया | कार्यक्रम का संचालन सतीश पुगलिया ने किया |

Post a Comment

Popular posts from this blog

हनुमानगढ़ जिले का स्थापना दिवस आज

पारिवारिक न्यायालय के अनूठे फैसले- परिवार टूटने के बजाय हो रहे एक

‘नाटकों का सामाजिक जीवन में महत्व’ विषय पर परिचर्चा