dd/MM/YYY फॉर्मेट की जगह MM/dd/YYYY फॉर्मेट से हुई गड़बड़ी , बच्चो की जन्मतिथिया बदली

पांचवीं बोर्ड की गलती श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर और चुरु के हजारों बच्चों पर भारी पड़ गई है। बोर्ड की एक चूक से उन बच्चों की जन्मतिथि बदल गई जिनका जन्म एक से 12 तारीख के बीच हुआ है। कारण ये कि स्कूलों और शिक्षा विभाग ने अपने ऑनलाइन रिकॉर्ड में जन्मतिथि का जो फॉरमेट रखा उसमें पहले तिथि फिर माह और बाद में वर्ष का रखा था। बोर्ड ने आवेदन पहुंचने के बाद सबकी जन्मतिथि का फॉरमेट पहले माह फिर तिथि और बाद में वर्ष रख लिया जिससे बच्चों की जन्म तिथि ही बदल गई। अब जब मार्कशीट तैयार हुई तो क्लेरिकल स्टाफ ने मार्कशीट में दर्ज करने के लिए जो जन्मतिथि उठाई वह बाेर्ड वाली उठा ली। यहां जिनकी जन्मतिथि 1 से 12 तारीख तक की थी उनकी तो वही रख दी लेकिन जिनकी जन्म तारीख 13 या इससे अधिक थी उनकी सही करके लिख दी। इसका खुलासा तब हुआ जब स्कूलों में मार्कशीट पहुंची और बच्चे लेने आए। बच्चों ने स्कूल प्रबंधनों से शिकायत की तो माजरा समझ में आया। अब अभिभावक और स्कूल संचालक परेशान हैं कि किसे सही माना जाए। अपना रिकॉर्ड सुधारा जाए जो ऑनलाइन किया है अथवा बोर्ड सबकी मार्कशीट वापस लेकर फिर से तैयार करे। 
Post a Comment

Popular posts from this blog

प्रेरकों को 6 हजार मानदेय दें

हनुमानगढ़ जिले का स्थापना दिवस आज

‘नाटकों का सामाजिक जीवन में महत्व’ विषय पर परिचर्चा